Breaking News
Home » मध्यप्रदेश » उज्जैन » डिजि-धन मेला आज केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर व श्री थावरचन्द गेहलोत शामिल होंगे

डिजि-धन मेला आज केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर व श्री थावरचन्द गेहलोत शामिल होंगे

डिजि-धन मेला आज  केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर व श्री थावरचन्द गेहलोत शामिल होंगे
डिजि-धन मेला आज केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर व श्री थावरचन्द गेहलोत शामिल होंगे
उज्जैन- मध्यप्रदेश में डिजिटल भुगतान के प्रोत्साहन हेतु डिजि-धन मेला 11 मार्च को प्रात: 10 बजे से शाम 5 बजे तक मुक्ताकाशी मंच ग्राउण्ड कालिदास अकादमी में आयोजित किया जायेगा। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि केन्द्रीय खनन एवं इस्पात, श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर होंगे तथा सम्माननीय अतिथि के रूप में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत शिरकत करेंगे। कार्यक्रम में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन, महापौर श्रीमती मीना जोनवाल, सांसद राज्यसभा डॉ.सत्यनारायण जटिया, सांसद लोकसभा डॉ.चिन्तामणि मालवीय, विधायक डॉ.मोहन यादव, श्री बहादुरसिंह चौहान, श्री अनिल फिरोजिया, श्री दिलीपसिंह शेखावत, श्री मुकेश पण्ड्या, श्री सतीश मालवीय तथा जिला पंचायत अध्यक्ष श्री महेश परमार मौजूद रहेंगे।
कलेक्टर ने की समीक्षा
कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने 10 मार्च की शाम को कालिदास अकादमी के मुक्ताकाशी मंच में डिजि-धन मेले की तैयारियों की बैठक लेकर समीक्षा की एवं दिशा-निर्देश दिये। बैठक में जानकारी दी गई कि डिजि-धन मेले में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिये विभिन्न हितग्राहियों एवं कोटवारों व कॉलेज के छात्रों को आमंत्रित किया जायेगा। सभी प्रमुख बैंक अपने स्टॉल लगाकर खाता खोलेंगे तथा प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों के जनधन खातों को बचत खातों में तब्दील करेंगे। जिन लोगों को आधार कार्ड के प्रिंट लेना है, वे प्रिंट भी ले सकेंगे। कार्यक्रम स्थल को वाईफाई करने के लिये एक निजी कंपनी द्वारा ऑफर दिया गया है। यहीं पर डिजिटल पेमेंट एक्सेप्ट करने वाली कंपनी भी अपना स्टॉल लगायेगी। हितग्राहियों को भीम एप डाउनलोड भी करवाया जायेगा। बैठक में अतिरिक्त कलेक्टर सुश्री रानी बंसल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एसएस रावत, एलडीएम श्री आरके तिवारी, एसडीएम श्री क्षितिज शर्मा, डूडा के परियोजना अधिकारी श्री भविष्य खोबरागड़े एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Check Also

उज्जैन सिंहस्थ 1956 का दुर्लभ चित्र

ujjain simhasth 2016 उज्जैन सिंहस्थ 1956 का दुर्लभ चित्र जब ना हम थे और ना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three + 1 =