Breaking News
Home » मध्यप्रदेश » उज्जैन » ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन के मुख्य आतिथ्य में शैव महोत्सव के सफल आयोजन के लिये सम्मान समारोह सम्पन्न

ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन के मुख्य आतिथ्य में शैव महोत्सव के सफल आयोजन के लिये सम्मान समारोह सम्पन्न

श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति द्वारा गत जनवरी माह के प्रथम सप्ताह में आयोजित शैव महोत्सव के सफल आयोजन के लिये महाकाल प्रवचन हॉल में सम्मान समारोह ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन के मुख्य आतिथ्य में तथा केन्द्रीय सिंहस्थ समिति के अध्यक्ष एवं शैव महोत्सव आयोजन समिति के अध्यक्ष श्री माखनसिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री श्री जैन ने शैव महोत्सव में जिन-जिन अधिकारी-कर्मचारियों एवं कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी दी गई थी, उन्होंने अपनी पूर्ण ईमानदारी व निष्ठा के साथ कार्य किया है वह सब धन्यवाद के पात्र हैं। महाकाल भगवान के आशीर्वाद से शैव महोत्सव सफल हुआ है। अच्छे काम करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों एवं कार्यकर्ताओं को समय-समय पर सम्मान किया जाना चाहिये। साथ ही अच्छे काम समाज हित में समय-समय पर किये जाना चाहिये।

सम्मान समारोह की अध्यक्षता कर रहे श्री माखनसिंह चौहान ने कहा कि शैव महोत्सव के सफल कार्यक्रम के हम प्रत्यक्ष साक्षी बने हैं और महोत्सव में एक नई दिशा मिली है। सनातनकाल से मनुष्य के मन में नई-नई योजनाएं एवं कार्यक्रम आयोजन करने की सोच चली आ रही है और नई सोच के कारण समाज को एक नई दिशा और प्रेरणा मिलती है। हमारे देश में ऋषियों, महापुरूषों के रहते हुए समाज में एक नई दिशा समय-समय पर मिलती रहती है। हम सबको समाज के हित में अच्छे कार्य कर आगे बढ़ना चाहिये। हमारे सम्पूर्ण सामाजिक जीवन को संवारने के लिये नित-नये अच्छे कार्य किये जाना चाहिये और शैव महोत्सव में यही समरसता का भाव जागृत हुआ है। हमारा देश महान बने इसमें हम सबकी महती भूमिका होना चाहिये। समाज में गन्दगी का भाव न हो। हम सब संस्कारवान बनें और समाज को अच्छी प्रेरणा दें। समाज में कोई भी असुरक्षित महसूस न करे, ऐसा कार्य हम सबको मिलकर करना चाहिये। देश में, प्रदेश में सुख, शान्ति, समृद्धि बनी रहे, धर्म की जय हो और अधर्म का नाश हो के संकल्प के साथ हमें समाजहित में कार्य किया जाना चाहिये।
संभागायुक्त श्री एमबी ओझा ने इस अवसर पर कहा कि शैव महोत्सव अपने आप में एक अनूठा महोत्सव था। शैव महोत्सव में देश के बारह ज्योतिर्लिंगों का उज्जयिनी में समागम हुआ वह भी अपने आप में अनूठा था। उज्जैन के लिये यह सौभाग्य की बात है। शैव महोत्सव में सबने बड़ी तन्मयता एवं लगन के साथ काम किया, वह बधाई के पात्र हैं। उन्होंने सबसे आग्रह किया कि सेवा धर्म का पालन कर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करना चाहिये।
सम्मान समारोह कार्यक्रम के प्रारम्भ में कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि सबके अथक प्रयास से शैव महोत्सव का कार्यक्रम सफल हो सका है। शैव महोत्सव का विचार कई वर्षों से उज्जैन के प्रबुद्धजनों के द्वारा चल रहा था। शैव महोत्सव के आयोजन में विभिन्न उप समितियां बनाई गई थी, उन समस्त उप समितियों के अधिकारी, संयोजक, सहसंयोजक एवं सदस्यगणों के अथक प्रयास, मेहनत से सफल आयोजन हुआ, वह प्रशंसनीय है।

पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर ने भी अपने विचार प्रकट करते हुए उज्जैन में शैव महोत्सव के बड़े आयोजन में सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था में लगे समस्त पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों एवं व्यवस्था से जुड़े अन्य नागरिकों का पुलिस प्रशासन की ओर से साधुवाद दिया। उन्होंने कहा कि धार्मिक नगरी उज्ज्यिनी में आयेदिन छोटे बड़े कार्यक्रम आयोजित होते रहते हैं और आयोजन में शामिल होने वाले समस्त वीआईपी, आमजन आदि की सुरक्षा की बड़ी जिम्मेदारी पुलिस विभाग की रहती है। यह जिम्मेदारी सबके सहयोग से ही संभव है। शैव महोत्सव में बगैर व्यवधान के आयोजन सफल रहा, इसमें सबकी भूरि-भूरि प्रशंसा की जाती है। पुराने अनुभवों से हमें सीख भी मिलती है। शासन-प्रशासन एवं जनभागीदारी से ही सब कार्य सम्पन्न होते हैं।
सम्मान समारोह में शैव महोत्सव के दौरान अलग अलग कार्यों के लिये सौंपे गये दायित्वों के निर्वहन के लिये उप समितियों के संयोजकों ने अपने अपने अनुभव साझा किये। जिन उप समितियों के संयोजकों ने अपने अनुभव साझा किये, उनमें श्री राजीव पाहवा, पं.संजय पुजारी, श्री मुकेश जोशी, श्री आनन्दीलाल जोशी, श्री राम तिवारी, श्रीमती राजश्री जोशी, श्री निरूक्त भार्गव, डॉ.विमल गर्ग, श्री रामचन्द्र कोरट, श्री विवेक जोशी, श्री वासु केसवानी, श्री कपिल कटारिया शामिल थे। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति द्वारा संचालित वेदविद्या प्रतिष्ठान के बटुकों ने स्वस्तिवाचन किया। कार्यक्रम के अन्त में उप समितियों के संयोजकों एवं प्रभारी अधिकारियों को शाल, श्रीफल, ताम्रपत्र एवं भगवान महाकाल का प्रसाद भेंट कर सम्मानित किया। अतिथियों ने प्रशासक एवं अपर कलेक्टर श्री अवधेश शर्मा को भी शाल, श्रीफल, ताम्रपत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। समितियों के सहसंयोजकों, सदस्यों तथा शैव महोत्सव में लगे कार्यकर्ताओं को प्रशस्ति-पत्र भेंट किये।
इस अवसर पर मन्दिर प्रबंध समिति के सदस्य श्री विभाष उपाध्याय, पं.प्रदीप गुरू, श्री जगदीश शुक्ला, पं.अशोक शर्मा, महानिर्वाणी अखाड़े के महन्त श्री प्रकाशपुरी के प्रतिनिधि श्री रामेश्वरदास महाराज, श्री विजयशंकर शर्मा, फार्मेसी काउंसिल के अध्यक्ष श्री ओम जैन आदि प्रबुद्धजन उपस्थित थे।

Check Also

मैं नही तू की भावना को परिलक्षित करता है सूफी गायन- सांसद डॉ. मालवीय

मैं नही तू की भावना को परिलक्षित करता है सूफी गायन- सांसद डॉ. मालवीय

सूफियाना कव्वाली सुन झूम उठे श्रोतागण, कालिदास अकादमी में सजी सुरों की महफिल उज्जैन : …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *