Breaking News
Home » मध्यप्रदेश » मन्दसौर » सुपोषित मध्यप्रदेश के लिये आँगनवाड़ी सेवाओं को बेहतर बनाया जायेगा

सुपोषित मध्यप्रदेश के लिये आँगनवाड़ी सेवाओं को बेहतर बनाया जायेगा

सुपोषित मध्यप्रदेश के लिये आँगनवाड़ी सेवाओं को बेहतर बनाया जायेगा
सुपोषित मध्यप्रदेश के लिये आँगनवाड़ी सेवाओं को बेहतर बनाया जायेगा

महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा है कि कुपोषण मुक्त सुपोषित मध्यप्रदेश बनाने के लिये आँगनवाड़ी केन्द्र की सेवाओं की पहुँच को सुदृढ़, बेहतर और हर जरूरतमंद तक पहुँचाया जायेगा। उन्होंने समाज का आव्हान किया

कि वे एक स्वस्थ समाज और बेहतर भविष्य को गढ़ने के इस अभियान में सरकार के साथ सक्रिय हिस्सेदारी निभाये। श्रीमती सिंह आज सात दिवसीय आँगनवाड़ी चलो अभियान, दूध वितरण कार्यक्रम, चलित आँगनवाड़ी और आँगनवाड़ी में प्ले स्कूल का शुभारंभ कर रही थी। कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री मनमोहन नागर उपस्थित थे। महिला-बाल विकास मंत्री ने कहा कि आँगनवाड़ी चलो अभियान का उद्देश्य उन लोगों तक पहुँचना है, जो अभी तक इसके जरिये दी जाने वाली सेवाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि 7 दिन में विभिन्न गतिविधि के जरिये हर एक ऐसे परिवार से सम्पर्क कर उन्हें केन्द्र तक लाने के लिये प्रेरित किया जायेगा। श्रीमती सिंह ने बताया कि सरकार ने संकल्प लिया है कि प्रदेश के हर बच्चे को सुपोषित बनायेंगे। इसके लिये सुपोषण अभियान के जरिये स्नेह शिविर लगाये गये, जिनके बेहतर परिणाम प्राप्त हुए। उन्होंने कहाकि मुख्यमंत्री की मंशा है कि इस कार्यक्रम से समाज के जागरूक और जिम्मेदार लोगों को भी जोड़ा जाये। इस दिशा में विभाग ने प्रयास किये जिसे समाज का समर्थन मिला। आज प्रदेश के 52 हजार नागरिक ने कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने की जिम्मेदारी उठायी है। श्रीमती सिंह ने इसकी सराहना करते हुए कहा कि समाज से मिलने वाले ऐसे सहयोग के जरिये ही हम प्रदेश को आगे ले जाने में सफल होंगे। विधायक श्री विश्वास सारंग ने कहा कि उन्होंने संकल्प लिया है कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र नरेला के सभी ऐसे बच्चे, जिन्हें सुपोषित बनाना है, उन्हें गोद लेंगे और एक वर्ष तक उनके स्वास्थ्य पर निगरानी रखेंगे। प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास श्री जे.एन. कंसोटिया ने कहा कि बच्चों और महिलाओं को स्वस्थ बनाये रखने में आँगनवाड़ी केन्द्रों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने समाज के लोगों से आग्रह किया कि वे एक बार आँगनवाड़ी केन्द्र जरूर जायें। इससे उन्हें केन्द्र के महत्व और जरूरतमंद बच्चों और महिलाओं को दी जाने वाली सेवाओं की जानकारी प्राप्त होगी। आयुक्त एकीकृत बाल विकास श्रीमती पुष्पलता सिंह ने आँगनवाड़ी चलो अभियान की रूपरेखा बतायी।

नागरिकों और बच्चों के माता-पिता का सम्मान
श्रीमती माया सिंह ने उन नागरिकों का सम्मान किया, जिन्होंने जरूरतमंद बच्चों को सुपोषित बनाने के लिये उन्हें एक निश्चित समयावधि के लिये गोद लिया। समारोह में ऐसे माता-पिता का भी सम्मान किया गया, जिनके बच्चे नियमित रूप से आँगनवाड़ी आ रहे हैं।
चलित आँगनवाड़ी का शुभारंभ
मंत्री ने भोपाल जिले में शुरू होने वाली प्रदेश के दूसरी चलित आँगनवाड़ी रथ को हरी झण्डी दिखायी। इसके जरिये उन क्षेत्रों में आँगनवाड़ी की सेवाएँ पहुँचायी जायेंगी, जहाँ पर केन्द्र नहीं हैं या वे आँगनवाड़ी केन्द्र तक नहीं आ पा रहे हैं।
प्ले स्कूल, नवीन आँगनवाड़ी भवन और दूध वितरण का शुभारंभ
मंत्री श्रीमती माया सिंह ने 74 बंगले स्थित अंकुर स्कूल में नये मापदण्डों के अनुसार बने आँगनवाड़ी केन्द्र और प्ले स्कूल का शुभारंभ किया। उन्होंने केन्द्र के हर बच्चे को ग्लास में दूध वितरित किया। उन्होंने समारोह में प्ले स्कूल में पढ़ाई जाने वाली एक्टिविटी बुक और स्नेह सरोकार पुस्तिका का भी विमोचन किया।

Check Also

शिक्षण संस्थाओं में आयोजित हों डिजीटल इंडिया पर आधारित जागरूकता कार्यक्रम, सेमिनार और कार्यशालायें

सचिव मुख्यमंत्री कार्यालय तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी श्री हरिरंजन राव ने प्रदेश के सभी कमिश्नर्स …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − eight =