Breaking News
Home » मध्यप्रदेश » आगर-मालवा » महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये हर सम्भव प्रयास किये जाऐंगे – डॉ. पस्तौर

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये हर सम्भव प्रयास किये जाऐंगे – डॉ. पस्तौर

उज्जैन संभाग के कमिश्नर डॉ. रवीन्द्र पस्तौर ने कहा कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये प्रयास किये जा रहे है। भविष्य में महिलाए आत्मनिर्भर हो जाएगी तो पुरूष महिलाओं से आर्थिक मदद मांगेंगे। सामाजिक परिवर्तन का काम आसान नही हैं। इसके लिये बहुत अधिक काम करने की आवश्यकता होती है। यह बात डॉ. पस्तौर ने ग्राम नान्याखेड़ी (अहिर) में बुधवार को महिला स्व सहायता समूहों की साधारण सभा कही।

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये हर सम्भव प्रयास किये जाऐंगे - डॉ. पस्तौर
महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये हर सम्भव प्रयास किये जाऐंगे – डॉ. पस्तौर

उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि गांव के लोग आत्मनिर्भर होंगे तो उनमें आत्मविश्वास अपने आप आ जाएगा। जब भी घर तथा गांव की समस्या आएगी तो उसके समाधान के लिये घर तथा गांव में ही खुद को प्रयास करना होगा। ग्रामीणजन तथा किसान कभी साप्ताहिक अवकाश नहीं रखते और न ही सेवा निवृत्त होते है। डॉ. पस्तौर ने उदाहरण देते हुए बताया कि कुए से छेद वाली बाल्टी में पानी निकालेंगे तो बाहर आते-आते वह बाल्टी खाली हो जाएगी। इसी तरह हमारी अर्थव्यवस्था भी है। बड़े शहर तथा बाजार समृद्ध दिखाई देते है। ग्रामीणजन प्रयास यह करें कि गांव का पैसा गांव में रहे। स्व सहायता समूह साहूकार का कार्य करता है। चक्र में घुमाएगी तो अधिक आमदानी होगी। समूह का पैसा आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करने में लगाए।

राशि का उपयोग शौचालय बनाने में न करते हुए उत्पादन कार्य में किया जाए। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति और अधिक सुदृढ़ होगी। डॉ. पस्तौर ने कहा कि किसान इन स्व सहायता समूहो से प्रेरणा ले और स्व सहायता समूह गठित करें। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति अपने आप और अधिक सुदृढ़ होगी। साधारण सभा में ग्राम उत्थान समिति अध्यक्ष श्रीमती राजूबाई ने आय-व्यय का ब्यौरा प्रस्तुत कर जानकारी दी कि समिति द्वारा अभी तक 70 लाख रूपये का ऋण सदस्यों में प्रदाय कर 5 लाख 75 हजार रूपये ब्याज अर्जित किया है। इस जानकारी पर डॉ. पस्तौर ने कहा कि पारदर्शिता पर अच्छा उदहारण है और इतनी मात्रा में ब्याज प्राप्त करना माइक्रो फाइनेंस के क्षेत्र में अच्छी उपलब्धी है।

कलेक्टर श्री विनोद कुमार शर्मा ने ग्रामीणों की मांगों के संबंध में कानड़ में उप तहसील भवन तथा माध्यमिक विद्यालय की बाउण्ड्रीवाल एवं शौचालय निर्माण करने का आश्वासन दिया। इसके लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने महिला स्व सहायता समूह के सदस्यों से कहा कि वे दूसरे गांवों में जाकर वहां स्व सहायता समूह गठित करें। सभी विकास खण्डों में हाट बाजार बनाने का प्रस्ताव है। स्व सहायता समूह को उनके उत्पाद को बेचने के लिये प्लेट फार्म उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने किसानों को आव्हान किया कि वे एक जैसी खेती करें जिससे उनकी उपज का उचित मूल्य मिल सके। इस अवसर पर कमिश्नर डॉ. पस्तौर ने चुड़ी बनाने वाली श्रीमती रेखाबाई तथा श्रीमती प्रेमबाई को बाल विवाह रूकवाने के लिए पुष्पमाला से सम्मानित किया।

इस अवसर पर संयुक्त संचालक उद्यानिकी श्री नरेन्द्रसिंह तोमर, उपसंचालक उद्यानिकी श्री रमेशचन्द्र पिपल्दे, उपसंचालक कृषि श्री बी.एल. मालवीय, परियोजना अधिकारी श्री आर.के. तिवारी, उप संचालक पशुचिकित्सा सेवाएं श्री अनिल असाटी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्रीमती सुषमा भदोरिया, महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री रीना शर्मा, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सुसनेर श्री जी.एस. डावर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व आगर श्रीमती वर्षा भूरिया, सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। इसके पश्चात् कमिश्नर डॉ. पस्तौर ने पारस पिपल तथा कलेक्टर श्री शर्मा ने गुलमोहर का पौधा भी लगाया

Check Also

क्षेत्रीय विधायक श्री परमार द्वारा जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े का शुभारम्भ

आगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री गोपाल परमार ने आज यहां जिला चिकित्सालय में विश्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *